स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया – News VMH

स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया

स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया
स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया

स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया

स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया [News VMH-Mainpuri, Rohit Yadav] जनपद मैनपुरी मे 01 मार्च, 2024- भारतीय रिज़र्व बैंक देश की जनता के बीच विभिन्न विषयों पर वित्तीय शिक्षण संदेशो के प्रचार के लिए प्रतिवर्ष वित्तीय साक्षरता सप्ताह का आयोजन करता आ रहा है, छात्रों, युवाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए वर्तमान वर्ष के वित्तीय साक्षरता सप्ताह के लिए चयनित विषय ’’करो सही शुरूआत, बनो फाइनेंसियली स्मार्ट’’ की थीम के साथ उप विषय, बचत और कम्पाउन्डिंग की शक्ति, छात्रों के लिए बैंकिंग की आवश्यकताएं और डिजिटल साइबर स्वच्छता पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

वित्तीय सहायता दी जाएगी

जिसे 01 मार्च 2024 तक मनाया जायेगा, यह विषय वित्तीय शिक्षण हेतु राष्ट्रीय कार्यनीति 2020-25 के कार्यनीतिक उद्देश्यों में से एक है, जिसका उद्देश्य आम जनता को अपने वित्तीय भविष्य की जिम्मेदारी लेने के लिए सशक्त बनाने हेतु वित्तीय सहनीयता का सृजन करना है, उक्त जानकारी सहा. महा प्रबन्धक भारतीय रिज़र्व बैंक मोती लाल ने देते हुये बताया कि आर.बी.आई. के निर्देशानुसार वित्तीय साक्षरता सप्ताह के दौरान ग्रामीण स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया।

स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया
स्वःरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बैंक आफ इंडिया द्वारा वित्तीय साक्षरता कैंप का आयोजन किया गया

साइबर स्वच्छता पर चर्चा की

कैम्प के दौरान ’’करो सही शुरूआत, बनो फाइनेंसली स्मार्ट’’ की थीम के साथ बचत और कम्पाउन्डिग की शक्ति, छात्रों के लिए बैंकिंग आवश्यकताएं तथा डिजिटल और साइबर स्वच्छता पर विस्तार से चर्चा की। उन्होने छात्रों को बैंकों द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली शिक्षा ऋण सुविधा के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी साथ ही बैंकों द्वारा उपलब्ध कराई जा रही डिजिटल वित्तीय सेवाओं का उपयोग करने हेतु प्रेरित किया। अग्रणी जिला प्रबन्धक अनिल प्रकाश तिवारी ने कहा कि डिजिटल सेवाएं सुविधा जनक और सुरक्षित हैं परन्तु उनका प्रयोग सावधानी पूर्वक करना चाहिए, जिससे किसी तरह की धोखधड़ी और पैसों का नुक़सान न हो।

ये रहे मौजूद

उन्होंने खाता धारकों को सावधान करते हुऐ कहा कि ए.टी.एम. कार्ड में उल्लिखित गोपनीय सूचनाएं किसी को सांझा न करें, इससे खाते में धोखाधड़ी हो सकती है। उन्होंने बताया कि वित्तीय सेवाओं का दुरपयोग खाता धारकों की सावधानी से रोंका जा सकता है। इस दौरान वरिष्ठ शाखा प्रबंधक बैंक ऑफ इण्डिया मन्जीत सिंह, निदेशक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान सत्येंद्र यादव, जिला समन्वयक भारतीय स्टेट बैंक नरेंद्र कुमार शर्मा, जिला समन्वयक, पंजाब नेशनल बैंक राहुल कुमार दीक्षित, शाखा प्रबंधक बैंक आफ इंडिया श्रीकांत बिन्दल, इंडियन बैंक से सूर्य कान्त, आर्यावर्त ग्रामीण बैंक से कु. पीयुषी पालीवाल, जन-सामान्य आदि उपस्थित रहे।

Leave a comment