बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी: मायावती

बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी: मायावती

बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी: मायावती

बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी: मायावती

Advertisements

बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी: मायावती [News VMH-Lucknow] लखनऊ: अपने 68वें जन्‍मदिन पर सोमवार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने बड़ा एलान किया है। पार्टी दफ्तर पर आयोजित प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में उन्‍होंने आगामी लोकसभा चुनाव में अकेले लड़ने का ऐलान किया। इस मौके पर उन्‍होंने अपने पुराने सहयोगी सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव पर करारा हमला किया। उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव गिरगिट की तरह रंग बदलते हैं। इनसे बचकर रहना चाहिए। मेरे संन्यास की अफवाह फैलाई जा रही है। मैं अभी संन्यास लेने वाली नहीं हूं। मैं अंतिम समय तक पार्टी के लिए काम करती रहूंगी।

बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी विपक्षी दल सुन लें

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि मुफ्त राशन देकर जनता को गुलाम बनाने की साजिश की जा रही है। हमारी पिछली सरकारों के दौरान हमने सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय के लिए काम किया। हमारे बाद आईं सरकारें हमारी योजनाओं की नकल करके लोगों को भुनाने में लगी हैं। इसके बावजूद जातिवादी, पूंजीवादी और संकीर्ण सोच की वजह से लोगों को इन योजनाओं का पूरा लाभ नहीं मिल पा रहा है।

Advertisements
Astrologer Sanjeev Chaturvedi

जन्‍मदिन पर सभी लोगों को नए साल की बधाई दी

बसपा प्रमुख ने अपने जन्‍मदिन पर सभी लोगों को नए साल की बधाई दी। उन्‍होंने कहा कि बसपा सरकार ने सभी वर्गों के लिए काम किया। बेरोजगारों, युवाओं और महिलाओं के लिए काम किया। हमारी सरकार जनहित के फैसले लेती थी। मायावती ने कहा कि रोजगार के साधन देने के बजाय फ्री में थोड़ा सा राशन देकर लोगों को मोहताज बनाया जा रहा है जबकि अपनी सरकार के दौरान हमने वर्तमान सरकारों की तरह लोगों को मोहताज नहीं बनाया। हमने सरकारी और गैर सरकारी क्षेत्रों में रोजगार के साधन दिए।

उत्तर प्रदेश की राजनीति में हलचल

मायावती के इस ऐलान से उत्तर प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई है। माना जा रहा है कि मायावती का यह ऐलान आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी की रणनीति का हिस्सा है। मायावती चाहते हैं कि उनकी पार्टी अकेले चुनाव लड़े और अपना अलग जनाधार बनाए।

मायावती के ऐलान बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी पर राजनीतिक दलों ने भी प्रतिक्रिया दी है। सपा नेता ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि मायावती का यह ऐलान एक नकारात्मक कदम है। उन्‍होंने कहा कि मायावती को गठबंधन करना चाहिए ताकि वे अधिक सीटें जीत सकें।

भाजपा नेता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि मायावती का यह ऐलान “बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी” उनके राजनीतिक करियर के लिए घातक साबित होगा। उन्‍होंने कहा कि मायावती को अपने पुराने सहयोगियों से हाथ मिलाना चाहिए ताकि वे चुनाव में सफल हो सकें।

बसपा के इस ऐलान से उत्तर प्रदेश की राजनीति में नया मोड़ आ गया है। देखना होगा कि आगामी लोकसभा चुनाव में मायावती की रणनीति कितनी सफल होती है।

मायावती के इस ऐलान बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी के कुछ प्रमुख बिंदु:

  • मायावती ने आगामी लोकसभा चुनाव में अकेले लड़ने का ऐलान किया है।
  • उन्‍होंने अपने पुराने सहयोगी सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव पर करारा हमला किया।
  • उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला।
  • उन्‍होंने कहा कि मुफ्त राशन देकर जनता को गुलाम बनाने की साजिश की जा रही है।
  • उन्‍होंने कहा कि हमारी पिछली सरकारों के दौरान हमने सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय के लिए काम किया।
  • उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार जनहित के फैसले लेती थी।
  • उन्‍होंने कहा कि रोजगार के साधन देने के बजाय फ्री में थोड़ा सा राशन देकर लोगों को मोहताज बनाया जा रहा है।

मायावती के इस ऐलान “बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी” से उत्तर प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई है। माना जा रहा है कि मायावती का यह ऐलान आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी की रणनीति का हिस्सा है।

धर्म जागरण प्रमुख की तरफ से किया गया खिचड़ी भोज का आयोजन

Advertisements
Advertisements

Leave a comment

Discover more from News VMH

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading